May 23, 2024

उत्कृष्ट भीड़-प्रबंधन, सुदृढ़ सुरक्षा-व्यवस्था एवं सुचारू यातायात-प्रबंधन के लिए सभी पदाधिकारी सजग एवं तत्पर रहेंः डीएम ने दिया निदेश

1 min read

छठ महापर्व की तैयारी

छठ महापर्व के सफल आयोजन हेतु डीएम ने किया छठ पर्व कोषांग का गठन

घाटों के निरीक्षण एवं अन्य आवश्यक सुविधाओं के आकलन हेतु 21 टीम का गठन, पाँच दिन के अंदर प्रतिवेदन समर्पित किया जाएगा

सभी एसडीओ एवं एसडीपीओ घाटों का संयुक्त निरीक्षण करेंगे

टीम भावना एवं अन्तर्विभागीय समन्वय की आवश्यकता पर डीएम ने दिया बल

विधि-व्यवस्था संधारण सर्वाेच्च प्राथमिकताः डीएम

पटना, शुक्रवार, दिनांक 27.10.2023ः जिलाधिकारी, पटना डॉ. चन्द्रशेखर सिंह ने कहा है कि छठ महापर्व, 2023 के अवसर पर उत्कृष्ट भीड़-प्रबंधन, सुदृढ़ सुरक्षा-व्यवस्था एवं सुचारू यातायात-प्रबंधन के लिए सभी पदाधिकारी सजग, सक्रिय एवं तत्पर रहेंगे। सभी अनुमंडल पदाधिकारियों, भूमि सुधार उप समाहर्ताओं, प्रखंड विकास पदाधिकारियों, अंचल अधिकारियों एवं अन्य को भेजे गये निदेश में डीएम डॉ. सिंह ने कहा है कि छठ पर्व लोक आस्था का महापर्व है। बाहर रहने वाले बिहार के निवासी भी बड़ी संख्या में अपने घर आते हैं। श्रद्धालुओं एवं छठव्रतियों की सुविधा के लिए सम्पूर्ण प्रशासनिक तंत्र प्रतिबद्ध रहे।

डीएम डॉ. सिंह ने सभी पदाधिकारियों को दुर्गापूजा, दशहरा एवं रावण वध कार्यक्रम के सफल आयोजन हेतु बधाई दी है। उन्होंने कहा कि आप लोगों ने उत्कृष्टतापूर्वक अपने दायित्वों का निर्वहन किया है तथा आशा है कि आगामी छठ महापर्व का भी हम सभी सफलतापूर्वक आयोजन सुनिश्चित करेंगे। सभी पदाधिकारियों को टीम भावना से काम करना होगा। नगर निकाय, जल संसाधन विभाग, आपदा प्रबंधन विभाग, पुलिस, प्रशासन, विद्युत, भवन निर्माण विभाग, पथ निर्माण, पुल निर्माण, अग्निशमन सहित सभी विभागों के पदाधिकारियों को आपस में समन्वय स्थापित करते हुए तत्परता एवं कुशलतापूर्वक अपने दायित्वों का निर्वहन करना होगा।

विदित हो कि इस वर्ष छठ महापर्व दिनांक 19-20 नवम्बर को मनाया जाएगा। दिनांक 17 नवम्बर, 2023 को नहाय-खाय से पर्व का अनुष्ठान होगा। दिनांक 18 नवम्बर, 2023 को खरना; दिनांक 19 नवम्बर, 2023 को संध्या अर्घ्य एवं दिनांक 20 नवम्बर, 2023 को प्रातः अर्घ्य का आयोजन होगा।

डीएम डॉ. सिंह द्वारा छठ महापर्व के सफल आयोजन हेतु छठ पर्व कोषांग का गठन किया गया है। उप विकास आयुक्त इस कोषांग के वरीय नोडल पदाधिकारी बनाए गए हैं। साथ ही विशिष्ट पदाधिकारी, अनुभाजन एवं प्रभारी पदाधिकारी, जिला आपदा प्रबंधन शाखा इसके नोडल पदाधिकारी नियुक्त किए गए हैं। यह कोषांग छठ पर्व के अवसर पर छठव्रतियों की सुविधा हेतु घाटों/पहंुच पथों पर किए जाने वाले आवश्यक तैयारियों से सम्बद्ध विभागों से समन्वय स्थापित करते हुए अपेक्षित कार्यों को ससमय सम्पन्न कराएगा। डीएम डॉ. सिंह ने कहा कि छठ महापर्व के अवसर पर विधि-व्यवस्था संधारण प्रशासन की सर्वाेच्च प्राथमिकता है।

डीएम ने छठ घाटों की तैयारी, स्वच्छता, यातायात व्यवस्था, घाटों पर नियंत्रण कक्ष एवं वाचटावर की स्थापना, आपदा प्रबंधन, चिकित्सा व्यवस्था, विद्युत व्यवस्था, ध्वनि विस्तारक यंत्र की व्यवस्था, सीसीटीवी कैमरा का अधिष्ठापन, शौचालय, चापाकल एवं यूरिनल की व्यवस्था, विधि-व्यवस्था संधारण सहित विभिन्न बिन्दुओं पर आवश्यक निदेश दिया है।

छठ महापर्व, 2023 के अवसर पर सम्यक तैयारी हेतु घाटों का निरीक्षण, खतरनाक घाटों की पहचान एवं अन्य आवश्यक सुविधाओं को सुनिश्चित करने हेतु डीएम डॉ. सिंह द्वारा पदाधिकारियों की 21 टीम का गठन किया गया है। इन पदाधिकारियों द्वारा लगभग 108 घाटों का निरीक्षण कर पाँच दिन के अंदर विहित प्रपत्र में प्रतिवेदन समर्पित किया जाएगा।

डीएम डॉ. सिंह ने कहा कि पदाधिकारियों द्वारा जिला अन्तर्गत सभी घाटों का सम्यक निरीक्षण किया जाएगा। घाटों पर बुनियादी सुविधाएँ उपलब्ध रहेगी। पुरूष एवं महिला के लिए अलग-अलग शौचालय, स्वच्छ पेयजल की सुविधा, पर्याप्त संख्या में चेंजिंग रूम, छठव्रतियों के ठहरने हेतु यात्री शेड, घाटों के बाहर वाहन पार्किंग की सुविधा रहेगी। घाटों की बैरिकेडिंग की जाएगी। घाटों पर जाने के लिए सम्पर्क पथ की अच्छी स्थिति सुनिश्चित की जाएगी। वाच टावर, नियंत्रण कक्ष, ध्वनि विस्तारक यंत्र एवं सीसीटीवी कैमरा का अधिष्ठापन किया जा रहा है।

डीएम डॉ. सिंह कहा कि घाटों पर सफाई की उतम सुविधा रहेगी। उत्कृष्ट प्रकाश व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी। पार्किंग स्थल पर बैरिकेडिंग/ड्रॉप गेट की व्यवस्था रहेगी। उन्होंने विद्युत कार्यपालक अभियंताओं को घाटों के आस-पास एवं सम्पर्क पथ में अवस्थित विद्युत तारों को व्यवस्थित करने का निदेश दिया।

डीएम डॉ. सिंह ने कहा कि सफाई निरीक्षक के नेतृत्व में घाटवार टीम की प्रतिनियुक्ति की जाएगी।

डीएम डॉ. सिंह ने भवन निर्माण विभाग के कार्यपालक अभियंता को घाटों पर नियंत्रण कक्ष, वाच टावर, चेंजिंग रूम एवं यात्री शेड की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित करने का निदेश दिया। पीएचईडी के कार्यपालक अभियंता को शौचालय, चापाकल एवं यूरिनल की व्यवस्था करने का निदेश दिया गया।

डीएम डॉ. सिंह ने कहा कि पटना स्मार्ट सिटी लि. द्वारा सीसीटीवी कैमरा का अधिष्ठापन किया गया है। इससे भीड़ पर निगरानी रखी जाएगी तथा अचूक सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी। श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए विभिन्न स्थानों पर साईनेज लगा रहेगा। विद्युत विभाग द्वारा घाटों पर प्रकाश की समुचित व्यवस्था की जाएगी। सिविल सर्जन द्वारा पर्याप्त संख्या में एम्बुलेंस, पारा मेडिकल स्टाफ तथा चिकित्सकों की प्रतिनियुक्ति की जाएगी। आपदा प्रबंधन कोषांग द्वारा एसडीआरएफ एवं एनडीआरएफ की प्रतिनियुक्ति की जाएगी। पुलिस अधीक्षक, यातायात द्वारा समाचार पत्रों में यातायात प्रबंधन से संबंधित सूचना प्रकाशित की जाएगी।

डीएम डॉ. सिंह ने कहा कि इस अवसर पर विधि-व्यवस्था संधारण हेतु दंडाधिकारियों एवं पुलिस पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की जाएगी। सिविल डिफेंस के कर्मी भी समुचित ड्रेस में मुस्तैद रहेंगे।

डीएम डॉ. सिंह ने सभी निर्माण एजेंसियों को निदेश दिया कि छठ पूजा से तीन दिन पहले सभी सड़कों को मोटरेबुल करना सुनिश्चित करें।

डीएम डॉ. सिंह ने कहा कि श्रद्धालुओं एवं छठव्रतियों की सुविधा के लिए सभी पदाधिकारी उत्कृष्ट कॉम्युनिकेशन प्लान के साथ मुस्तैद रहेंगे। उन्होंने कहा कि छठव्रतियों एवं श्रद्धालुओं को हर प्रशासनिक सुविधा सुनिश्चित कराना जिला प्रशासन का दायित्व है। इसके लिए सभी पदाधिकारी सजग, तत्पर एवं प्रतिबद्ध रहेंगे।

डीपीआरओ, पटना

अकबर ईमाम एडिटर ईन चीफ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed