July 16, 2024
Vidya Junction Classes-Best Coaching Institute in Patna City

डीएम की अध्यक्षता में पाटलिपुत्र बस टर्मिनल की कार्यकारिणी समिति की बैठक, यात्री सुविधाओं को और बेहतर बनाने पर बल दिया गया

1 min read

पटना, सोमवार, दिनांक 30.10.2023ः- जिला पदाधिकारी, पटना-सह-अध्यक्ष, कार्यकारिणी समिति, पाटलिपुत्र बस टर्मिनल की अध्यक्षता में आज समाहरणालय स्थित सभाकक्ष में पाटलिपुत्र बस टर्मिनल(पीबीटी) की कार्यकारिणी समिति की बैठक हुई। इसमें अनुमण्डल पदाधिकारी, पटना सदर/पटना सिटी, अपर समाहर्ता, जिला परिवहन पदाधिकारी, कार्यपालक पदाधिकारी, नगर परिषद फुलवारीशरीफ-सह-सचिव, पीबीटी; बुडको, नगर निगम के प्रतिनिधि, बस एवं ऑटो एसोसिएशन तथा अन्य संगठनों के प्रतिनिधि उपस्थित थे। इस बैठक में पाटलिपुत्र बस टर्मिनल, बैरिया, पटना के सुगम संचालन एवं यात्रियों की सुविधा के लिए प्रस्तावों पर विमर्श किया गया तथा आवश्यक निर्णय लिया गया। जिलाधिकारी द्वारा यात्री सुविधाओं को और अधिक बेहतर बनाने पर बल दिया गया।

कार्यपालक पदाधिकारी, नगर परिषद फुलवारीशरीफ-सह-सचिव, पीबीटी द्वारा पाटलिपुत्र बस टर्मिनल से सुगमतापूर्वक बसों के परिचालन हेतु एजेंडावार प्रतिवेदन प्रस्तुत किया गया। यात्रियों के लिए पेयजल एवं शौचालयों की उपलब्धता, ड्रायवर डॉर्मिटरी तथा शौचालय के रख-रखाव, उपयोग एवं नियंत्रण; सीसीटीवी की क्रियाशीलता, साफ-सफाई, सुरक्षा कार्य, बुडको द्वारा कराए जा रहे योजना अंतर्गत अवशेष कार्यों में प्रगति इत्यादि पर विस्तृत चर्चा की गई। बस एवं ऑटो एसोसिएशन तथा अन्य संघों के प्रतिनिधियों द्वारा सुझाव तथा जानकारी दी गई।

डीएम डॉ. सिंह ने कहा कि पाटलिपुत्र बस टर्मिनल परिसर के आगमन एवं प्रस्थान स्थान पर पर्याप्त मात्रा में शौचालय, बाथरूम तथा यूरिनल की व्यवस्था रहनी चाहिए। जिलाधिकारी के संज्ञान में लाया गया कि मुख्य भवन एवं टर्मिनल बिल्डिंग मिलाकर वर्तमान में 78 शौचालय क्रियाशील है। अभी बुडको द्वारा चार स्थानों-गेट संख्या 2 के उत्तर, फ्लाईओवर के नीचे ब्लॉक सी के सामने, ब्लॉक ए के सामने तथा डॉर्मिटरी के सामने- पर कुल अतिरिक्त 48 सीटर शौचालय का निर्माण कराया जा रहा है जिसमें 35 पुरूषों के लिए तथा 13 महिलाओं के लिए है। साथ ही 28 यूरिनल, 14 ड्रिंकिंग वाटर स्थल एवं 20 स्नानघर स्थल का निर्माण किया जा रहा है। जिलाधिकारी द्वारा 15 दिन के अंदर इन शौचालयों तथा अन्य सुविधाओं का निर्माण कार्य पूर्ण करने का निदेश दिया गया। साथ ही यात्री सुविधा हेतु दो मोबाईल टॉयलेट की क्रय प्रक्रिया शीघ्र पूरा करने का निदेश दिया गया।

जिलाधिकारी ने जीरो माईल से मसौढ़ी तक के सड़क का चौड़ीकरण करने का निदेश पथ प्रमंडल, पटना सिटी एवं एनएचएआई के अधिकारियों को दिया। अनुमण्डल पदाधिकारी, पटना सिटी इसका अनुश्रवण करेंगी। साथ ही पाटलिपुत्र बस टर्मिनल परिसर में पुलिस पोस्ट के निर्माण पर विशेष ध्यान देने का निदेश दिया गया।

डीएम डॉ. सिंह ने अनुमण्डल पदाधिकारी, जिला परिवहन पदाधिकारी तथा यातायात पुलिस उपाधीक्षक को निदेश दिया कि चिन्हित स्थानों से ही बसों का परिचालन सुनिश्चित कराएँ। अनधिकृत स्थानों पर वाहनों का ठहराव एवं परिचालन करने वालों के विरूद्ध दण्डात्मक कार्रवाई करें। उन्होंने कहा कि यात्रियों की सुविधा के लिए पर्याप्त संख्या में डिस्पले बोर्ड तथा इन्क्वायरी काउण्टर रहना चाहिए। प्रमुख स्थलों पर यात्री-किराया की सूची का प्रदर्शन किया जाए ताकि यात्रियों को कोई असुविधा न हो।

डीएम डॉ. सिंह ने आउटसोर्सिंग एजेंसी द्वारा बस टर्मिनल परिसर की साफ-सफाई तथा पटना नगर निगम के अजीमाबाद अंचल द्वारा परिसर में एकत्र ठोस अपशिष्ट के उठाव का नियमित तौर पर अनुश्रवण करने का निदेश दिया।

जिलाधिकारी ने कहा कि पाटलिपुत्र बस टर्मिनल के विस्तार हेतु 5 एकड़ भूमि का अधिग्रहण प्रक्रियाधीन है। भूमि से संबंधित एसआईए का अंतिम प्रतिवेदन अनुग्रह नारायण सिंह समाज अध्ययन संस्थान, पटना से प्राप्त है। डीएम डॉ. सिंह द्वारा कार्यपालक पदाधिकारी, नगर परिषद, फुलवारीशरीफ-सह-सचिव, पीबीटी को इस कार्य में तेजी लाने के लिए नगर विकास एवं आवास विभाग से समन्वय स्थापित करने का निदेश दिया गया। उन्होंने कहा कि स्थायी भू-अर्जन के इस स्थल पर आवश्यक संरचना निर्माण कराया जाएगा।

डीएम डॉ. सिंह ने निदेश दिया कि अनुमंडल पदाधिकारी, पटना सदर की अध्यक्षता में गठित टास्क फोर्स सतत क्रियाशील रहे। इसमें पुलिस उपाधीक्षक, यातायात उपाधीक्षक, नगर कार्यपालक पदाधिकारी शामिल हैं। यह टास्क फोर्स पाटलिपुत्र बस टर्मिनल के नजदीक के इलाकों से अवांछित तत्वों पर नियंत्रण रखे। साथ ही पाटलिपुत्र बस टर्मिनल से जीरो माईल तक के इलाके को अतिक्रमण मुक्त रखा जाए। डीएम डॉ. सिंह ने अपर जिला दण्डाधिकारी, विधि-व्यवस्था को पीबीटी के आस-पास नियमित तौर पर अतिक्रमण हटाओ अभियान संचालित करने का निदेश दिया । साथ ही पीबीटी के सचिव को बस टर्मिनल परिसर में यात्रियों की सुविधा हेतु बैंक, एटीएम अधिष्ठापित करने तथा कॉमर्सियल शॉप को विकसित करने के लिए प्रावधानों के अनुसार कार्य करने का निदेश दिया गया।

डीएम डॉ. सिंह ने निदेश दिया कि दैनिक कार्यों के सुगमता से संचालन हेतु गठित उप समिति नियमित तौर पर बैठक करे। इस उप समिति में नगर विकास विभाग के सहायक अभियंता, पुलिस उपाधीक्षक यातायात; सचिव, पीबीटी; नगर प्रबंधक एवं अन्य शामिल हैं। जिलाधिकारी ने निदेश दिया कि उप समिति की बैठक महीने में कम से कम दो बार हो। बैठक में दैनन्दिन कार्यों के सम्पादन को सुगमता से सम्पन्न करने हेतु आवश्यक कार्रवाई की जाए।

डीएम डॉ. सिंह ने कहा कि यात्रियों के लिए उत्तम परिवहन व्यवस्था सुनिश्चित करना प्रशासन की सर्वाेच्च प्राथमिकता है। सभी स्टेकहोल्डर्स इसके लिए सजग, तत्पर तथा प्रतिबद्ध रहें।

डीपीआरओ, पटना

अकबर ईमाम एडिटर ईन चीफ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed