April 23, 2024

आयुक्त कुमार रवि ने कहा कि छठव्रतियों एवं श्रद्धालुओं के लिए सभी घाटों पर उत्कृष्ट प्रशासनिक प्रबंध है। दण्डाधिकारियों एवं पुलिस पदाधिकारियों को भीड़-प्रबंधन, विधि-व्यवस्था संधारण तथा यातायात प्रबंधन के लिए सजग एवं तत्पर रहने का निदेश दिया गया है।

1 min read

आयुक्त, पटना प्रमंडल, पटना श्री कुमार रवि द्वारा आज छठ घाटों का निरीक्षण किया गया तथा तैयारियों एवं प्रबंधन का जायजा लिया गया। छठ महापर्व, 2023 का आज संध्या अर्घ्य है। व्रतियों एवं श्रद्धालुओं के अर्घ्य हेतु घाटों पर पहुँचने से पूर्व आयुक्त द्वारा दीघा पाटीपुल से गायघाट तक सभी घाटों का निरीक्षण किया। घाटों पर पैदल चल तैयारियों को देखा गया; कंट्रोल रूम, पार्किंग, साफ़-सफ़ाई, बैरिकेडिंग, साइनेज, यात्री शेड तथा अन्य संरचनाओं का निरीक्षण किया गया। आयुक्त श्री रवि द्वारा भीड़-प्रबंधन एवं यातायात व्यवस्था को देखा गया।

आयुक्त ने कहा कि छठव्रतियों एवं श्रद्धालुओं के लिए सभी घाटों पर उत्कृष्ट प्रशासनिक प्रबंध है। दण्डाधिकारियों एवं पुलिस पदाधिकारियों को भीड़-प्रबंधन, विधि-व्यवस्था संधारण तथा यातायात प्रबंधन के लिए सजग एवं तत्पर रहने का निदेश दिया गया है। सभी को छठव्रतियों एवं श्रद्धालुओं के प्रति सौजन्यता प्रकट करते हुए विनम्रतापूर्वक परन्तु दृढ़ता के साथ अपने-अपने दायित्वों का निर्वहन करने को कहा गया है।

आयुक्त ने कहा कि छठव्रतियों एवं श्रद्धालुओं के लिए घाटों पर हर सुविधा उपलब्ध है। २१ सेक्टर पदाधिकारियों के नेतृत्व में लगभग १०० घाटों पर संपूर्ण प्रशासनिक तंत्र सक्रिय है। ज़िलाधिकारी एवं वरीय पुलिस अधीक्षक द्वारा इसका अनुश्रवण किया जा रहा है। सभी घाटों पर कंट्रोल रूम फंक्शनल है। प्रकाश, स्वच्छ पेयजल, पुरूष एवं महिला के लिए अलग-अलग शौचालय, चेंजिंग रूम, व्रतियों के ठहरने हेतु शेड इत्यादि की बेहतरीन व्यवस्था है।

मानकों के अनुरूप बैरिकेडिंग है। वाच टावर अधिष्ठापित किया गया है। खतरनाक घाटों को लाल कपड़ा से घेरा गया है। अनुपयुक्त एवं खतरनाक घाटों पर भी दण्डाधिकारियों एवं पुलिस पदाधिकारियों को तैनात किया गया है ताकि लोग उधर न जाएं। पार्किंग की भी काफी अच्छी व्यवस्था है। घाटों के यथासंभव नजदीक पार्किंग का प्रबंध किया गया है। डेडिकेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट प्लान बनाया गया है। एप्रोच पथ प्रकाशमान, सुगम एवं अवरोधमुक्त है। घाटों पर ध्वनि विस्तारक यंत्र से लगातार उद्घोषणा की जा रही है। छठ महापर्व के अवसर पर ‘‘क्या करें, क्या न करें’’ के बारे में नियमित तौर पर बताया जा रहा है।

नदी में एवं घाटों पर एसडीआरएफ तथा एनडीआरएफ टीम की प्रतिनियुक्ति की गई है। मार्गों, घाटों एवं रिवरफ्रंट पर सीसीटीवी कैमरा से निगरानी की जा रही है ताकि छठव्रतियों एवं श्रद्धालुओं को कोई असुविधा न हो। बड़े घाटों पर ड्रोन से गतिविधियों पर नजर रखा जाएगा।

आयुक्त ने सभी संबंधित पदाधिकारियों को छठ महापर्व के अवसर पर अपने-अपने क्षेत्रांतर्गत विशेष रूप से सजग एवं सक्रिय रहने का निदेश दिया है।

डीपीआरओ, पटना

अकबर ईमाम एडिटर ईन चीफ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed