May 27, 2024

जिला निर्वाचन पदाधिकारी-सह-जिला पदाधिकारी, पटना श्री शीर्षत कपिल अशोक द्वारा आज ज़िला-स्तरीय स्वीप नियंत्रण कक्ष का निरीक्षण किया गया

1 min read

जिला निर्वाचन पदाधिकारी-सह-जिला पदाधिकारी, पटना श्री शीर्षत कपिल अशोक द्वारा आज ज़िला-स्तरीय स्वीप नियंत्रण कक्ष का निरीक्षण किया गया l उन्होंने कहा कि इस ऑल-वीमेन डेडिकेटेड स्वीप नियंत्रण कक्ष की स्थापना लोकसभा चुनाव में मतदाता जागरूकता अभियान का रेगुलर मॉनिटरिंग करने के लिए किया गया है l नियंत्रण कक्ष से “Knock-the-door” अभियान में संलग्न पदाधिकारियों एवं कर्मियों से रिपोर्ट ली जाती है तथा उनसे गृह-भ्रमण के बारे में विस्तृत सूचना ली जाती है l नियंत्रण कक्ष से मतदाताओं से भी संपर्क किया जाता है तथा उनसे फीडबैक लिया जाता है। साथ ही मतदाताओं को पोलिंग स्टेशन का लोकेशन, बूथ पर एएमएफ की उपलब्धता, हेल्पलाइन नं 1950, सिविजिल, सक्षम एप, वोटर हेल्पलाइन एप एवं अन्य तथ्यों की जानकारी दी जाती है l

विदित हो कि यह एक विशिष्ट नियंत्रण कक्ष है जो केवल महिलाओं द्वारा संचालित है l हिंदी भवन में स्थित इस नियंत्रण कक्ष में 42 हटिंग लाइन (प्रति विधान सभा 3 हटिंग लाइन) कार्यरत है l जिलाधिकारी ने कहा कि इस नियंत्रण कक्ष में दो शिफ्ट में 84 महिला पर्यवेक्षकों को प्रतिनियुक्त किया गया है l जिला प्रोग्राम पदाधिकारी, आईसीडीएस सुश्री आभा प्रसाद द्वारा बाल विकास परियोजना पदाधिकारियों के पर्यवेक्षण में इस नियंत्रण कक्ष का संचालन किया जा रहा है l नोडल पदाधिकारी, ज़िला स्वीप कोषांग – सह – डीपीआरओ, पटना श्री लोकेश कुमार झा द्वारा इसका पर्यवेक्षण तथा वरीय नोडल पदाधिकारी, ज़िला स्वीप कोषांग-सह- उप विकास आयुक्त, पटना श्री तनय सुल्तानिया द्वारा इसका अनुश्रवण किया जा रहा है l डीडीसी स्वीप कार्यक्रमों की नियमित समीक्षा भी करते हैंl

जिलाधिकारी ने कहा कि इस कंट्रोल रूम का कार्य बहु-आयामी है। यदि मतदाताओं को कोई समस्या होती है तो उसका भी समाधान कंट्रोल रूम के पदाधिकारियों द्वारा किया जाता है। जिलाधिकारी ने कहा कि इस पूरे एक्सरसाइज का उद्देश्य एक ही है कि हमारे पटना जिला का वीटीआर कम-से-कम राष्ट्रीय औसत के अनुरूप 68% होना चाहिए l उन्होंने कहा कि हमें आशा है कि पटना जैसे ऐतिहासिक एवं गौरवशाली जिला में मतदाता सजग होकर काफी बड़ी संख्या में मतदान करेंगे ताकि हमारा मतदान प्रतिशत पूर्व की तुलना में काफी अच्छा हो।

जिलाधिकारी ने कहा कि सहभागितापूर्ण वातावरण में लोकसभा आम निर्वाचन, 2024 सम्पन्न कराने के लिए जिला प्रशासन प्रतिबद्ध है। सुगम, सहज, सुरक्षित एवं समावेशी चुनाव कराने के लिए सभी कदम उठाया जा रहा है। मतदाता मतदान करने के लिए कोई भी एक मान्य पहचान दस्तावेज़/ आईडी प्रूफ़ लेकर मतदान केन्द्र पर आएँ। उन्हें हर सुविधा प्राप्त होगी। प्रत्येक मतदान केंद्र पर आश्वस्त न्यूनतम सुविधाएं को सुनिश्चित किया जा रहा है। मतदान केन्द्रों पर रैम्प, स्वच्छ पेयजल, शौचालय, विद्युत, साईनेज, हेल्पडेस्क आदि की व्यवस्था रहेगी। हीट मिटिगेशन प्लान का क्रियान्वयन किया जाएगा ताकि मतदाताओं को गर्मी से कोई समस्या न हो। डीएम ने कहा कि पीडब्ल्यूडी और वरिष्ठ मतदाताओं की जरूरतों के प्रति प्रशासन जागरूक एवं सतर्क है और उनके लिए सुलभ चुनाव सुनिश्चित कराने के लिए प्रतिबद्ध है। मतदान में प्राथमिकता, ग्राउंड फ्लोर पर पोलिंग स्टेशन, रैंप जैसी बुनियादी सुविधाएं रहेगी। साथ ही वैकल्पिक होम वोटिंग की सुविधा भी उपलब्ध है।

जिलाधिकारी ने कहा कि सम्पूर्ण पटना जिला में आयोग के निदेशों के अनुसार तेजी से तैयारी चल रही है। हमलोग पूरी तन्मयता से कार्य कर रहे हैं। हम लोकतंत्र के इस उत्सव को एक सुखद अनुभव बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। सभी निर्वाचकों से अपील है कि वे वोट जरूर दें। इससे हमारा समृद्ध लोकतंत्र और प्रस्फुटित होगा तथा इसे नया आयाम मिलेगा।

==========================
“जागरूक मतदाता हमारे समृद्ध लोकतंत्र की रीढ़ हैं। संविधान द्वारा प्रदत्त वयस्क मताधिकार बहुमूल्य है एवं इस अधिकार का प्रयोग एक नागरिक के लिए अत्यावश्यक है। चुनाव में उच्च मतदान प्रतिशत हमारे प्रजातंत्र को एक नया आयाम देगा।”

डीएम ने लोकतंत्र के इस महापर्व में नागरिकों से भाग लेने की अपील करते हुए कहा कि मतदान की तिथि को अपने-अपने बूथ पर सबसे पहले पहुंच कर वोट अवश्य डालें।

ज़िलाधिकारी ने कहा कि स्वतंत्र, निष्पक्ष, भयमुक्त, पारदर्शी एवं सहभागितापूर्ण वातावरण में लोकसभा आम निर्वाचन, 2024 सम्पन्न कराने के लिए जिला प्रशासन प्रतिबद्ध है।

अकबर ईमाम एडिटर इन चीफ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed