May 20, 2024

अक्षत सेवा सदन के प्रांगण में अक्षत सेवा सदन के 20वा स्थापना दिवस के शुभ अवसर पर पदमश्री से सम्मानित श्री आनन्द कुमार, संस्थापक Super 30 का नागरिक अभिनंदन सम्मान समारोह किया गया

1 min read

अक्षत सेवा सदन के प्रांगण में दिनांक 28/01/2023 को अक्षत सेवा सदन के 20वा स्थापना दिवस के शुभ अवसर पर पदमश्री से सम्मानित श्री आनन्द कुमार, संस्थापक Super 30 का नागरिक अभिनंदन सम्मान समारोह किया गया

मुख्य अतिथि श्री संजय सिंह एमएलसी पटना बिहार, जी ने कहा की गरीब बच्चों के सपने पूरा कराने के सफर पर निकले गणितज्ञ और शिक्षक आनंद कुमार को आज एक बड़ा मुकाम मिला है. आनंद कुमार ने ऐसे छात्रों को सपोर्ट किया जो फीस नहीं दे सकता वंचित थे क्योंकि आनंद कुमार खुद जिस तरह के बैकग्राउंड से आए थे, वो अपने जैसे बच्चों के जीवन संघर्ष को बेहतर समझते थे. गरीब बच्चों को मुफ्त शिक्षा के लिए मैं धन्यवाद देता हूं। आनंद कुमार सिंह को और साथ में डॉक्टर अमूल्य कुमार सिंह को जो इस तरह के प्रतिभाओं को हमेशा आगे रखते हैं और समाज के लिए सदैव बेहतर करते हैं। समाज देश प्रदेश के हर तबके के मरीजों को अच्छा से अच्छा इलाज कर नई जिंदगी दिया l


अक्षत सेवा सदन के द्वारा लायंस उर्मिला वृद्धाश्रम में आये हुए असहाय एवं आर्थिक रूप से कमजोर ( लोगों ) मरीजों को लाने-ले- जाने के लिए टोटो एंबुलेंस सेवा की मुफ्त सुविधा उपलब्ध हैं जो की बहुत बड़ी बात है।

श्री आनन्द कुमार जी ने कहा कई वर्षों से मैं अक्षत सेवा, सदन और डॉक्टर अमूल्य सर से जुड़ा हुआ हूं। डॉक्टर सर ने हमारा इलाज किया था और मैं बहुत खुश हूं कि और भी लोगों इसी तरह से खुश होकर अच्छे रिजल्ट पाते हैं।


आज अक्षत सेवा सदन 20 सालों से सामाजिक कार्य एवं मरीजों की सेवा करते आ रहा है अक्षत सेवा सदन ही एक ऐसा परिवार है जो तीन पीढ़ियों से चिकित्सकों की उपाधि प्राप्त कर चुके हैं एवं उनके द्वारा कुछ चिकित्सकों को संजीवनी अवार्ड के द्वारा सम्मानित किया गया l अक्षत सेवा सदन के द्वारा प्रतिवर्ष गरीब असहाय मरीजों को कंबल एवं जरूरत अनुसार बर्तन मुफ्त में उपलब्ध कराई जाती है एवं गरीब असहाय स्कूल में पढ़ने वाली बालिकाओं को मुफ्त में साइकिल वितरण प्रतिवर्ष किया जाता है ताकी सही समय से पढ़ाई कर सकें।

पदमश्री डॉ0 जे . के सिंह – जी ने कहा की सुपर 30 में देश के कई राज्यों के बच्चे बिहार आकर रहे हैं । अभी उनके द्वारा पढ़ाए गए कई गरीब बच्चों की जिंदगी बदल गई है और वे देश से विदेश तक में ऊंची सैलरी की नौकरियों में हैं।
अक्षत सेवा सदन एक ऐसा अस्पताल है जिसमें हर मरीज के इलाज कम से कम पैसों में की जाती है और विश्व ख्याति प्राप्त हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ0 अमूल्य कुमार सिंह एक सामाजिक कार्यों के अलावा कुछ ना कुछ सामाजिक एक्टिविटीज दिन प्रतिदिन करते रहते हैं ।

मो0 ओबैदुर रहमान, Rahman 30 के संचालक जी ने कहा की लायंस उर्मिला वृद्धाश्रम के द्वारा प्रतिवर्ष अच्छे खासे लाचार एवं आर्थिक रूप से असहाय लोगों की देखभाल एवं सभी सुविधाएं मुफ्त में दी जाती है l शहरी / ग्रामीण क्षेत्रों में भी निशुल्क शिविर लगाकर चिकित्सकों द्वारा मरीजों को मुफ्त में परामर्श जांच एवं दवा उपलब्ध कराई जाती है ।

डॉ0 अमूल्य कुमार सिंह जी ने कहा की गर्व की बात है कि पदमश्री श्री आनंद कुमार ने बड़ी संख्या में छात्र-छात्राओं को आईआईटी में सफलता दिलवाई। बड़ी बात यह कि इन्होंने इस मिथक को तोड़ा कि कोटा जाने से ही बच्चे इंजीनियरिंग में सफल होते हैं।
आज अक्षत सेवा सदन आज 20 सालों से सामाजिक एवं मरीजों की सेवा करते आ रहा है अभी तक तकरीबन ढाई लाख से ऊपर ओपीडी में मरीजों को देखा गया एवं 30000 से ऊपर मरीजों को सफल पूर्वक शल्य चिकित्सा हो चुका है और 300 से ऊपर मरीजों का ज्वाइंट रिप्लेसमेंट भी हो चुका है तकरीबन हजारों की संख्या में गठिया रोग का इलाज सफलतापूर्वक किया गया l
अक्षत सेवा सदन की हमेशा कोशिश रही है कि किस तरह से गरीब और असहाय की मदद की जाए। ज्यादा से ज्यादा गरीबों की मदद किया जाए।

बिहार सरकार के द्वारा भी मान्यता प्राप्त हुई एवं बिहार सरकार के द्वारा गरीब आर्थिक रुप से असहाय मरीजों का ऑपरेशन मुफ्त में किया जाता है आज अक्षत सेवा सदन कई संस्थाओं से टाई-अप हो चुकी है
आयुष्मान भारत योजना ( PM-JAY ) एवं ईएसआईसी के अंतर्गत सफलतापूर्वक सूचीबद्ध हो चुकी है जिससे बहुत सारे आर्थिक रूप से लाचार मरीजों का सल्य-चिकित्सा मुफ्त में की जाती है ।

श्री आलोक कुमार सिंह जी जीएसटी असिस्टेंट कमिश्नर, पटना, आज यह संस्था 9 कर्मचारियों से सुरू हुई थी जो अभी सौ (100) से ज्यादा कर्मचारियों की परिवार बन चुकी है एवं प्रतिवर्ष किसी न किसी कर्मचारियों की बच्ची की शादी होती है उसमे ईस संस्थान की तरफ से एक लाख रुपया तक की सहायता राशि मदद के रूप में दी जाती है एवं किसी कार्यरत कर्मचारियों की ज्यादा तबीयत खराब होने एवं इमरजेंसी पड़ने पर उसे संस्थान की तरफ से सहायता राशि के रूप में मदद की जाती है ।

डॉ0 मनीषा सिंह निदेशक महावीर कैंसर संस्थान, जी ने कहा कि – अक्षत परिवार यूं ही आगे भी गरीबों, जरूरतमंदों, असहाय और वृद्ध मरीजों की सेवा करते रहें। वृद्धाश्रम से घर जाने के बाद मरीजों की सेवा उनके परिवार करते रहें। इससे हमारा समाज स्वस्थ रहेगा और समाज को एक अच्छा संदेश जाएगा।

इस कार्यक्रम में गौरवान्वित अतिथि डॉ सरसीज नयनम प्रेसिडेंट ग्लोबल ऑर्थोपेडिक फोरम, डॉ0 मनीषा सिंह डायरेक्टर महावीर कैंसर संस्थान, उपस्थित थे साथ ही अक्षत सेवा सदन के सभी कर्मचारी गण एवं अक्षत परिवार के सभी सदस्य इस कार्यक्रम में शामिल थे अक्षत सेवा सदन का एक ही उद्देश्य है कि सभी लोग अपने पैरों पर खड़े हो और जीवन में आत्मनिर्भर हो इसलिए कहा गया कि ‘मिलकर साथ चलें – धन्यवाद l

डॉक्टर अमूल्य कुमार सिंह
निदेशक

अक्षत सेवा सदन, यारपुर, पटना 1

अकबर ईमाम एडिटर ईन चीफ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed