June 22, 2024

पद्म श्री पंडित हरी उप्पल की जयंती के दूसरे दिन पद्म श्री गीता चंद्रन के भरतनाट्यम और इंस्टीट्यूट ऑफ मणिपुरी परफॉर्मिंग आर्ट्स की मणिपुरी नृत्य की प्रस्तुति ने दर्शकों को मोहा

1 min read

राधा अष्टमी के अवसर पर पद्म श्री गीता चंद्रन के नाट्य वृक्ष नृत्य समूह ने की रास की प्रस्तुति
कला, संस्कृति एवं युवा विभाग एवं भारतीय नृत्य कला मंदिर के संयुक्त तत्वावधान में दो दिवसीय शास्त्रीय नृत्य महोत्सव का आज हुआ समापन


पटना 23.09.2023
आज पटना के भारतीय नृत्य कला मंदिर में पद्म श्री पंडित हरी उप्पल जयंती के दूसरे दिन समारोह की शुरुआत पद्म श्री गीता चंद्रन एवं उनके दल के द्वारा आदि शंकराचार्य के शिव महापंचाक्षर श्लोक से हुई। पद्म श्री गीता चंद्रन द्वारा आदि शंकराचार्य के शिव महापंचाक्षर श्लोक पर की गई प्रस्तुति ने दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। नृत्य की इस क्रम में उनके नाट्य वृक्ष नृत्य समूह, नई दिल्ली के द्वारा प्रस्तुत किये गए त्रिधारा आलारिप्पु, कटाना वेदाना और संकीर्तन ने दर्शकों को सम्मोहित कर दिया। नाट्य वृक्ष नृत्य समूह के सभी कलाकारों के बारे में बताते हुए पद्म श्री गीता चंद्रन ने कहा कि इस ग्रुप में जो भी सदस्य है वो नृत्य के अलावा अलग-अलग प्रोफेशनल क्षेत्रों के विशेषज्ञ हैं , कोई लन्दन स्कूल ऑफ स्कूल से इकोनॉमिस्ट है, कोई डॉक्टर है, कोई डिज़ाइनर है तो कोई सोशियोलॉजी के विशेषज्ञ हैं। नृत्य इन सभी के लिए एक जूनून है। श्रीमती चंद्रन ने कहा कि आज राधा अष्टमी है और इस अवसर पर हमारा नृत्य समूह एक रास की प्रस्तुति देंगे।


कार्यक्रम के दौरान इंस्टीट्यूट ऑफ मणिपुरी परफॉर्मिंग आर्ट्स के द्वारा मणिपुरी नृत्य के वसंत रास का प्रस्तुतीकरण दिया गया। वसंत रास, पांच पारंपरिक मणिपुरी रासलीलाओं में से एक है, जो भगवान कृष्ण के श्रृंगार रस की भागवत परंपरा पर आधारित है, जैसा कि मणिपुर के महान गुरु ने कल्पना की थी।


कार्यक्रम के पश्चात सभी कलाकारों का सम्मान अंगवस्त्रम भेंट कर कला, संस्कृति एवं युवा विभाग के अपर मुख्य सचिव श्रीमती हरजोत कौर बम्हरा के द्वारा किया गया। समापन समारोह को संबोधित करते हुए श्रीमती कौर ने कहा कि पद्म श्री पंडित हरी उप्पल जी की जयंती पर आयोजित यह दो दिवसीय समारोह काफी सफल रहा और इसके लिए मैं सभी कलाकारों की आभारी हूँ । कला, संस्कृति एवं युवा विभाग आगे भी इस प्रकार के आयोजन करता रहेगा।


आज के कार्यक्रम में विभिन्न विभागों के वरीय पदाधिकारी, रंगकर्मी, गणमान्य नागरिक, कला प्रेमी, कलाकार, आम नागरिक, मीडियाकर्मी सहित लगभग ३०० लोग उपस्थित रहे । कार्यक्रम का मंच संचालन रंगकर्मी श्रीमती सोमा चक्रवर्ती के द्वारा किया गया।

अकबर ईमाम एडिटर ईन चीफ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed