July 14, 2024
Vidya Junction Classes-Best Coaching Institute in Patna City

स्वच्छ, कदाचारमुक्त एवं शांतिपूर्ण माहौल में परीक्षा सम्पन्न कराना प्रशासन की सर्वाेच्च प्राथमिकता; सभी प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी एवं पदाधिकारी सजग, तत्पर तथा प्रतिबद्ध रहेंः आयुक्त श्री कुमार रवि

1 min read

कुल अभ्यर्थियों की संख्या 44,064

उत्कृष्ट भीड़-प्रबंधन, सुदृढ़ विधि-व्यवस्था संधारण तथा सुचारू यातायात प्रबंधन सुनिश्चित करने का आयुक्त ने दिया निदेश

पटना, शुक्रवार, दिनांक 14 जून, 2024ः आयुक्त, पटना प्रमंडल, पटना-सह-समन्वयी पर्यवेक्षक, सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा, 2024 श्री कुमार रवि ने कहा है कि स्वच्छ, कदाचारमुक्त एवं शांतिपूर्ण माहौल में सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा, 2024 आयोजित करना प्रशासन की सर्वाेच्च प्राथमिकता है। सभी संबंधित पदाधिकारियों एवं दंडाधिकारियों को इसके लिए सजग, तत्पर तथा प्रतिबद्ध रहना होगा। वे आज श्री कृष्ण स्मारक भवन, पटना में इस विषय पर आयोजित ब्रीफिंग में प्रतिनियुक्त स्थानीय निरीक्षण अधिकारियों, दंडाधिकारियों, पुलिस पदाधिकारियों, केंद्राधीक्षकों एवं अन्य को संबोधित कर रहे थे। आयुक्त श्री रवि ने उत्कृष्ट भीड़-प्रबंधन, सुदृढ़ विधि-व्यवस्था संधारण तथा सुचारू यातायात प्रबंधन सुनिश्चित करने का निदेश दिया है। उन्होंने संघ लोक सेवा आयोग के दिशा-निर्देशों का अक्षरशः अनुपालन सुनिश्चित करने को कहा।

विदित हो कि संघ लोक सेवा आयोग, नई दिल्ली द्वारा आयोजित सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा, 2024 दिनांक 16 जून, 2024 (रविवार) को पटना केंद्र के 92(बानवे) परीक्षा उप केंद्रों पर दो पालियों में आयोजित होगी। कुल अभ्यर्थियों की संख्या 44,064 है।

आयुक्त श्री रवि ने कहा कि संघ लोक सेवा आयोग, नई दिल्ली द्वारा परीक्षा के सफल संचालन हेतु भारतीय प्रशासनिक सेवा के पाँच वरीय पदाधिकारियों को प्रेक्षक के तौर पर नामित किया गया है।

आयुक्त श्री रवि ने कहा कि अखिल भारतीय स्तर पर आयोजित होने वाली परीक्षा की महत्ता एवं गरिमा को ध्यान में रखते हुए सभी प्रतिनियुक्त दंडाधिकारियों एवं पदाधिकारियों को सक्रिय रहना होगा। परीक्षा के सफल आयोजन हेतु केन्द्रवार स्थानीय निरीक्षण अधिकारियों, स्टैटिक दण्डाधिकारियों-सह-सहायक पर्यवेक्षकों, जोनल दंडाधिकारियों-सह-सहायक समन्वय पर्यवेक्षकों, सुरक्षित दंडाधिकारियों एवं पुलिस पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की गई है। 92 परीक्षा उप केन्द्रों के लिए 34 जोन निर्धारित किया गया है। केन्द्रवार 92 (बानवे) स्थानीय निरीक्षण अधिकारियों तथा 92 (बानवे) सहायक पर्यवेक्षक-सह-स्टैटिक दण्डाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की गई है। 34 जोनल दंडाधिकारियों, 18 सुरक्षित दंडाधिकारियों एवं पुलिस पदाधिकारियों को प्रतिनियुक्त किया गया है। इनके साथ पुलिस बल को भी लगाया गया है।

आयुक्त श्री रवि ने कहा कि सभी स्थानीय निरीक्षण अधिकारी अपने आवंटित परीक्षा उप केन्द्र का परीक्षा के एक दिन पूर्व दिनांक 15 जून, 2024 (शनिवार) को आयोग के निदेश के अनुरूप परीक्षा की सारी तैयारियों का निरीक्षण करेंगे तथा निरीक्षण समाप्ति के उपरान्त उसी दिन आयुक्त कार्यालय, पटना प्रमंडल, पटना में प्रतिवेदन समर्पित करेंगे। साथ ही सभी स्थानीय निरीक्षण अधिकारी, संघ लोक सेवा आयोग द्वारा उपलब्ध करायी गयी मार्गदर्शिका/कार्य और उत्तरदायित्व का शत-प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित करेंगे।

संघ लोक सेवा आयोग, नई दिल्ली की मार्ग-दर्शिका का शत-प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित कराने हेतु आज श्री कृष्ण स्मारक भवन, पटना में स्थानीय निरीक्षण अधिकारियों, दंडाधिकारियों, पुलिस अधिकारियों एवं केंद्राधीक्षकों की ब्रीफिंग की गई। जिला दण्डाधिकारी, पटना श्री शीर्षत कपिल अशोक ने स्थानीय निरीक्षण अधिकारियों, केंद्राधीक्षकों, प्रतिनियुक्त दंडाधिकारियों एवं पुलिस पदाधिकारियों को आयोग के दिशा-निर्देशों की बारीकियों को समझाया। संघ लोक सेवा आयोग, नई दिल्ली के प्रतिनिधि द्वारा परीक्षा के सभी पहलुओं पर विस्तार से प्रकाश डाला गया। आयुक्त के सचिव श्री विनय कुमार ठाकुर एवं अपर जिला दंडाधिकारी, विधि-व्यवस्था श्री राजेश रौशन द्वारा पदाधिकारियों को उनके दायित्वों के बारे में बताया गया।

आयुक्त श्री रवि ने पुलिस अधीक्षक, यातायात को परीक्षा के दिन सुगम यातायात प्रबंधन सुनिश्चित करने का निदेश दिया। वे परीक्षार्थियों के आवागमन एवं प्रतिनियुक्त पदाधिकारियों के गमनागमन के मद्देनजर यातायात व्यवस्था सुदृढ़ बनाये रखने हेतु अपने स्तर से आवश्यक कार्रवाई सुनिश्चित करेंगे।

आयुक्त श्री रवि ने निदेश दिया कि सभी स्थानीय निरीक्षण अधिकारी, संघ लोक सेवा आयोग द्वारा उपलब्ध करायी गयी मार्गदर्शिका का शत-प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित करेंगे। साथ ही अपने-अपने परीक्षा उपकेन्द्र पर परीक्षा प्रारंभ होने के निर्धारित समय से दो घंटा पूर्व निश्चित रूप से पहुँच जायेंगे।

आयुक्त श्री रवि ने कहा कि संघ लोक सेवा आयोग के निदेश के आलोक में परीक्षा हॉल/कमरे में मोबाईल फोन, आई०टी०, डिजिटल वाच/स्मार्ट वाच, ब्लूटुथ एवं अन्य प्रकार के किसी संवाद उपकरण ले जाना प्रतिबंधित है। अतएव परीक्षा में किसी भी परीक्षार्थी को मोबाईल फोन, पेजर, आई०टी० गैजेटस, ब्लूटुथ एवं अन्य प्रकार के किसी संवाद उपकरण परीक्षा भवन में ले जाने की अनुमति नहीं है। उक्त निदेश का उल्लंघन करने पर संबंधित परीक्षार्थी के विरूद्ध अनुशासनिक कार्रवाई करते हुए भविष्य में आयोग द्वारा आयोजित होनेवाली परीक्षाओं से भी वंचित कर दिया जायेगा। साथ ही केन्द्राधीक्षक, सहायक पर्यवेक्षक, वीक्षक एवं परीक्षा से जुड़े पदाधिकारी/कर्मी को भी परीक्षा हॉल/कमरे में मोबाईल फोन या अन्य प्रकार के किसी संवाद उपकरण को अंदर ले जाने की अनुमति नहीं है। आयुक्त श्री रवि ने कहा कि सभी स्टैटिक दंडाधिकारी परीक्षा उपकेन्द्र के मुख्य द्वार पर बार-बार उद्घोषणा करेंगे कि कोई भी परीक्षार्थी परीक्षा हॉल/कमरों में बैग्स, मोबाईल फोन, ब्लूटूथ तथा अन्य इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस नहीं ले जाएंगे। साथ ही वे परीक्षा के दौरान परीक्षा हॉल/कमरों तथा अन्य कक्षों आदि का लगातार निरीक्षण करते रहेंगे एवं यह सुनिश्चित करेंगे कि किसी भी परीक्षार्थी के पास प्रतिबंधित सामग्री नहीं है एवं वे इसका उपयोग नहीं कर रहे हैं।

आयुक्त श्री रवि ने कहा कि किसी भी परीक्षार्थी को किसी भी परिस्थिति में परीक्षा प्रारंभ होने के निर्धारित समय से 30 मिनट पूर्व यानि प्रथम पाली 09.00 बजे पूर्वाह्न एवं द्वितीय पाली 02.00 बजे अपराह्न के बाद परीक्षा उपकेन्द्र के परिसर में प्रवेश की एवं उपस्थित परीक्षार्थी को परीक्षा समाप्ति के पूर्व परीक्षा हॉल/कमरा छोड़ने की अनुमति नहीं है।

सभी स्थानीय निरीक्षण अधिकारी अपने-अपने परीक्षा उपकेन्द्र पर प्रत्येक पाली की उपस्थित/अनुपस्थित एवं परीक्षार्थियों की कुल संख्या की सूचना आयुक्त कार्यालय, पटना प्रमंडल, पटना स्थित नियंत्रण कक्ष दूरभाष संख्या 0612-2219205/2233578 पर परीक्षा प्रारंभ होने के निर्धारित समय से 45 मिनट के अंदर उपलब्ध कराना सुनिश्चित करेंगे। इस कार्य में लापरवाही बरतने वाले के विरूद्ध आवश्यक कार्रवाई किया जायेगा।

इस परीक्षा के सफल संचालन हेतु श्री मनीष कुमार, श्रम अधीक्षक, पटना-सह-अपर प्रभारी दण्डाधिकारी जिला नियंत्रण कक्ष, पटना को जिला नियंत्रण कक्ष में नोडल पदाधिकारी के रूम में नामित किया गया है। वे सभी पदाधिकारियों एवं केन्द्राधीक्षकों से समन्वय स्थापित करेंगे तथा आवश्यकतानुसार समुचित सहायता प्रदान करेंगे।

अनुमंडल दण्डाधिकारी, पटना सदर/पटना सिटी/दानापुर तथा पुलिस उपाधीक्षक, नगर पटना/ विधि-व्यवस्था, पटना/सचिवालय, पटना, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी, पटना सदर/पटना सिटी/दानापुर/फुलवारीशरीफ परीक्षा केन्द्रों पर परीक्षा के स्वच्छ, कदाचारमुक्त, शांतिपूर्ण संचालन हेतु विधि-व्यवस्था संधारण के संपूर्ण प्रभार में रहेंगे एवं परीक्षा कार्य समाप्ति तक भ्रमणशील रहकर सतत निगरानी रखेंगे।

अपर जिला दण्डाधिकारी विधि-व्यवस्था, पटना के साथ नगर पुलिस अधीक्षक, मध्य पटना/पूर्वी पटना/पश्चिमी पटना विधि-व्यवस्था के वरीय प्रभार में रहेंगे।

आयुक्त श्री रवि ने कहा कि आप सभी वरीय, अनुभवी एवं विश्वसनीय पदाधिकारी हैं। आशा है कि इस बार भी कदाचारमुक्त परीक्षा का संचालन एवं परीक्षा की पवित्रता बनाये रखने हेतु आप सतत प्रयत्नशील रहेंगे तथा परीक्षा का सफल संचालन सुनिश्चित कराएंगे।

आज के इस अवसर पर आयुक्त श्री रवि के साथ जिलाधिकारी, पटना श्री शीर्षत कपिल अशोक, नगर आयुक्त, पटना नगर निगम श्री अनिमेष कुमार पराशर, संघ लोक सेवा आयोग, नई दिल्ली के प्रतिनिधि अधिकारी, पुलिस अधीक्षक यातायात, पटना, आयुक्त के सचिव, अपर जिला दंडाधिकारी विधि-व्यवस्था एवं अन्य भी उपस्थित थे।

उप निदेशक,
आईपीआरडी, पटना प्रमंडल

अकबर ईमाम एडिटर इन चीफ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed