February 21, 2024

भारत की प्रमुख विज्ञान आधारित आयुर्वेद कंपनी डाबर इंडिया लिमिटेड ने उपभोक्ताओं को आयुर्वेद के फायदों और सेहतमंद जीवनशैली के बारे में जागरुक बनाने के लिए जागरुकता अभियान साइंस इन एक्शन की शुरूआत की है

1 min read

डाबर च्यवनप्राश ने लॉन्च किया साइंस इन एक्शन अवेयरनेस कैंपेन

गया : भारत की प्रमुख विज्ञान आधारित आयुर्वेद कंपनी डाबर इंडिया लिमिटेड ने उपभोक्ताओं को आयुर्वेद के फायदों और सेहतमंद जीवनशैली के बारे में जागरुक बनाने के लिए जागरुकता अभियान साइंस इन एक्शन की शुरूआत की है। यह कैंपेन आयुर्वेद के संबंध में वैज्ञानिक रूप से जांचे गए तथ्यों के बारे में बताएगा, ताकि परिवार सोच-समझ कर अपने रोज़मर्रा के विकल्पों को चुन सकें और स्वस्थ रह सकें।

इस अभियान के तहत डाबर, जाने-माने आयुर्वेदिक चिकित्सकों के साथ 22 शहरों के स्कूलों में सेमिनार का आयोजन भी करेगा। ये सत्र बच्चों को बताएंगे कि किस तरह आयुर्वेद उनके समग्र स्वास्थ्य को सनिश्चित कर उज्जवल भविष्य का निर्माण करने में योगदान दे सकता है। इस अभियान को आज गया के सुभाष इंटरनेशनल स्कूल के 250 से अधिक बच्चों के लिए आयोजित एक विशेष सत्र के साथ हरी झंडी दिखाई गई।

ब्यास आनंद, प्रमुख सीएसआर और कॉर्पोरेट कम्युनिकेशन, डाबर इंडिया लिमिटेड ने कहा, इस कैंपेन साइंस इन एक्शन के साथ डाबर आयुर्वेद से जुड़े मिथकों को दूर कर लोगों को सही जानकारी देना चाहता है ताकि वे आयुर्वेद के फायदों को समझें और इस बात कों जानें कि स्वस्थ एवं खुशहाल जीवन जीने का सबसे आसान तरीका है अपने रोज़मर्रा में च्यवनप्राश का सेवन करना। डॉ. परमेश्वर अरोड़ा, एमडी (आयुर्वेद) बीएचयू वाराणसी ने कहा, डाबर के सभी प्रोडक्ट्स गहन अनुसंधान के बाद तैयार किए जाते हैं। डाबर च्यवनप्राश ने पिछले सालों के दौरान इम्युनिटी बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

हालांकि आयुर्वेद और च्यवनप्राश के बारे में कई गलत अवधारणाएं मौजूद हैं। इस सीरीज़ ‘साइंस इन एक्श’ के माध्यम से हम इन्हीं मिथकों को दूर करना चाहते हैं और दर्शकों को बताना चाहते हैं कि किस तरह आयुर्वेद और डाबर च्यवनप्राश विज्ञान द्वारा प्रमाणित हैं। साइंस इन एक्शन विज्ञान पर आधारित आयुर्वेद के लिए हमारी प्रतिबद्धता को दर्शाता है।

अकबर ईमाम एडिटर इन चीफ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *